NITI Aayog (राष्‍ट्रीय भारत परिवर्तन संस्‍थान) in Hindi (National Institution for Transforming India)

0

निति आयोग ( niti aayog ) राष्‍ट्रीय भारत परिवर्तन संस्‍थान जिसे पहले योजना आयोग कहा जाता था।  योजना आयोग की शुरुआत मार्च 1950 में की गई थी. इसका नाम बदलकर 2015 में नीति आयोग कर दिया गया . योजना आयोग का गठन पंचवर्षीय योजना को तैयार करने और राज्य और मंत्रालयों को धन वितरण गए कार्यों के साथ शुरू किया गया था भारत सरकार को भविष्य में नीतियां बनाने के लिए बनाए गए थे जो सरकार को विभिन्न मुद्दों जैसे स्वास्थ्य शिक्षा पर सलाह दे सके।

निति आयोग ( niti aayog )स्थापना कैसे हुए

1947 ईस्वी में औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता प्राप्त करने के बाद भारत के सामने एक गंभीर चुनौती यह थी कि वह भारत के विकास को सुनिश्चित करने के लिए किस प्रकार की शासन व्यवस्था को अपनाए। ऐसी स्थिति में, भारत ने विशुद्ध समाजवादी प्रारूप को अपनाना भी अनुचित माना था और पूर्ण रूप से पूंजीवादी शासन के स्वरूप को भी उचित नहीं माना था। इसलिए भारत ने अपनी आवश्यकता के अनुसार शासन व्यवस्था के मिश्रित प्रारूप का चयन करना उचित समझा था। लेकिन भारत द्वारा अपनाए गए शासन व्यवस्था के इस मिश्रित स्वरूप में भी भारत का अधिक झुकाव पूंजीवाद की तरफ न होकर, समाजवाद की तरफ ही रहा था।

स्वतंत्रता के बाद जब हमारे देश का संविधान लिखा जा रहा था। तब हमारे संविधान में किसी भी प्रकार की योजना को नहीं जोड़ा गया था 1950 में जयप्रकाश नारायण के द्वारा सर्वोदय योजना शुरू की जाती है। जिसके तहत गरीब और अमीर सबका विकास को लेकर चला गया था लेकिन बाद में के.सी नियोगी ने सोवियत संघ का दौरा करते हैं और उस समय सोवियत संघ में समाजवादी शासन की सरंचना को अपनाया हुआ था। नियोगी वहां से ही नियोजन की व्यवस्था को भारत लेकर आते हैं। और बाद में इस नियोजन को ही इन्होंने समवर्ती सूची के अंदर रखा जो बाद में उनकी सिफारिशों के अनुसार 15 मार्च 1950 को केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा पारित प्रस्ताव के द्वारा योजना आयोग की स्थापना की गई थी। योजना आयोग एक गैर संवैधानिक संस्था है। जिसकी प्रथम अध्यक्ष जवाहरलाल नेहरू तथा उपाध्यक्ष गुलजारी लाल नंदा को बनाया गया इस योजना के अनुसार ही भारत में सन 1951 के अंदर पंचवर्षीय योजनाओं को शुरुआत की गई थी लेकिन केंद्र में सत्ता परिवर्तन होने की बात 1 जनवरी 2015 को योजना आयोग के स्थान पर केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसका नाम बदलकर नीति आयोग कर दिया गया।

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाला यह आयोग सरकार के थिंक टैंक के रूप में कार्य करेगा व केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकारों के लिए भी नीति निर्माण करने वाले संस्थान की भूमिका निभाएगा केंद्र और राज्य सरकारों को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय में महत्वपूर्ण मुद्दों पर यह निर्णय तकनीक सलाह देगा इस बदलते समय को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार ने अब तक के योजना आयोग के स्थान पर नीति आयोग गठित करने का निर्णय लिया है ताकि भारत के लोगों की आकांक्षाओं को बेहतर तरीके से पूरा किया जा सके नीति आयोग के गठन से पहले मुख्यमंत्रियों विशेषज्ञ अर्थशास्त्रियों और आम जनता के साथ माई गौर गवर्नमेंट के जरिए व्यापक विचार विमर्श किया गया था

15 अगस्त 2014 को देश के प्रधानमंत्री ने लाल किले लाल राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में योजना आयोग के स्थान पर एक नई संस्था लाने की घोषणा की थी जो की 1 जनवरी 2015 को मंत्रिमंडल के एक प्रस्ताव के तहत एक नई संस्था  बनी जिसे  राष्ट्रीय भावना परिवर्तन संस्थान( National Institution for Transforming India -NITI AAYOG )   कहां गया जिसे हम नीति आयोग के नाम से जानते है। 

 

योजना आयोग

 टॉप डाउन एप्रोच

 राज्यों का कोई प्रतिनिधित्व नहीं

 क्षेत्रीय नियोजन को महत्व नहीं

नौकरशाही जैसा चरित्र

 कार्यकारी प्रकार्य अधिक महत्वपूर्ण

 व्यष्टि नियोजन पर बल 

 राज्य नियोजन परिषद की भूमिका गौण

  केंद्रीय राज्य समन्वय का अभाव

 एकीकृत नियोजन पर बल 

 अनुसंधान शाखा का अभाव( थिंक टैंक का अभाव)

निति आयोग ( niti aayog )

बॉटम अप एप्रोच

 राज्यों का प्रतिनिधित्व

 क्षेत्रीय नियोजन के लिए क्षेत्रीय परिषद का गठन

 विशेषज्ञ  निकाय

 परामर्शदयि   प्रकार्य अधिक महत्वपूर्ण

 समष्टि नियोजन  पर बल 

 राज्य नियोजन परिषद  की भूमिका महत्वपूर्ण 

केंद्र राज्य  समन्वय पर बल 

 विभिन्न मंत्रालयों व क्षेत्रों के अनुसार अलग नियोजन

 थिंक टैंक को महत्व 

 

CAG (Comptroller & Auditor General of India-CAG ) नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक या कैग या कागजी शेर भी कहा जाता है। 

योजना आयोग की संरचना 

  1. अध्यक्ष   प्रधानमंत्री

     2. उपाध्यक्ष  प्रधानमंत्री द्वारा नियुक्त

     3.  कार्यकारी परिषद  (गवर्निंग काउंसिल) जिसमें सभी राज्यों के मुख्यमंत्री संघ राज्यों के प्रशासक अथवा  मुख्यमंत्री शामिल होते हैं .

4. क्षेत्रीय परिषद

5.  भारत के अलग-अलग क्षेत्रों में समान समस्या का सामना कर रहे राज्यों और संघ से मिलकर बनी संस्था

     6. पूर्णकालिक सदस्य 

(a) उपाध्यक्ष ( ठीक वैसे ही जैसे पहले योजना आयोग का उपाध्यक्ष होता था इसकी भी  रैंक केंद्र कैबिनेट मिनिस्टर की होती है.)

(b)  4 से 6 पूर्णकालिक सदस्य

(c)   2 अल्पकालिक सदस्य (विश्वविद्यालय अनुष्ठान संस्थाओं से

(d) चार पदेन सदस्य केंद्रीय मंत्रिपरिषद के मंत्री गण जिनका मनोनयन प्रधानमंत्री करता है

(e)  मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिसकी रैंक भारत सरकार के सचिव की होती है

(f) सदस्य सचिव यह प्राय भारतीय प्रशासनिक सेवा का वरिष्ठ अधिकारी होता है

 

नीति आयोग (niti aayog)  के कार्य 

  • केंद्र और राज्य की  समग्र दृष्टि पर आधारित विकास प्राथमिकताओं का निर्धारण
  •  सहकारी संघवाद की भावना को मजबूत बनाना
  •  गांव  के स्तर  पर वहां के जरूरत के अनुसार योजना बनाना और क्षेत्रीय तथा राष्ट्रीय योजनाओं में जगह देना
  •  आजादी के बाद से विकास की यात्रा में पिछड़ गए समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए विशेष प्रयास करना
  •  दीर्घकालीन नियोजन कार्य निबंध और उनके प्रगति की समीक्षा तथा उन्हें अनुसार उसमें सुधार करना
  •  नियोजन में विश्वविद्यालयों अनुसंधान संगठनों गैर सरकारी संगठनों आदि का वर्जी देना और उनके परामर्श के अनुसार नियोजन को बेहतर बनाना 
  • ज्ञान भंडार और उन्नयन  निर्माण तथा नावोंमुखी विचारों को प्रेरित करना
  •  अंतर क्षेत्रीय समस्याओं का निराकरण करना है 
  • देश के विकास में भागीदारी हेतु मानव संस्थान विकास पर बल देना है। 
  • योजना कार्यान्वयन पर निगरानी रखना उसके मार्ग में आने वाली बाधाओं को दूर करना समय समय उसकी प्रगति की समीक्षा कर इसके दोषों को दूर करना

 

 

नीति आयोग (NITI Aayog) से संबंधित प्रश्न

नीति आयोग का अध्यक्ष कौन होता है? – प्रधानमंत्री

नीति आयोग का गठन कब हुआ? – 1 जनवरी 2015

योजना आयोग  का गठन कब हुआ? -15 MARCH 1950

 नीति आयोग के प्रथम उपाध्यक्ष कौन थे? – अरविंद पनगढ़िया

योजना आयोग के प्रथम उपाध्यक्ष कौन थे?-गुलजारी लाल नंदा

नीति आयोग के सीईओ (CEO) कौन है? – अमिताभ कांत

नीति आयोग के वर्तमान उपाध्यक्ष कौन है? – राजीव कुमार

नीति आयोग का फुल फॉर्म क्या है? – National Institution For Transforming India

नीति आयोग के उपाध्यक्ष की नियुक्ति कौन करता है? – प्रधानमंत्री

योजना आयोग का नया नाम क्या हैं? – नीति आयोग

 नीति आयोग का मुख्यालय कहाँ है? – नई दिल्ली

नीति आयोग में सदस्यों की संख्या कितनी होती है? – 5 (पूर्णकालिक)

 योजना आयोग का अध्यक्ष कौन होता है? – प्रधानमंत्री

 

उम्मीद करते हैं कि द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी .योजना आयोग जिसे की नीति आयोग भी कहा जाता है के बारे में संपूर्ण जानकारी दी गई है अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी प्रशन जाना चाहते हैं . तो हमें कमेंट बॉक्स में लिख कर भेज सकते हैं या आपके पास इस लेख से संबंधित कोई अन्य जानकारी है जो आप हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो हमें कमेंट में या   सोशल मीडिया के जरिए हम से संपर्क स्थापित कर सकते हैं .

Comptroller & Auditor General Of India CAG जानिए पुरे विस्तार में

 

 

 

Print Friendly, PDF & Email
Leave A Reply

Your email address will not be published.